ऐतबार*

मुझे इश्क़ तो है,तेरा इंतज़ार नहीं,
खुद पर यकीं तो है, तेरा ऐतबार नहीं।
देव
20/01/2021, 12:28 am

Leave a Reply