हवा थी वो!

बेतरतीब सी जिन्दगी, कुछ और बिखर गई,
हवा थी वो, आईं और गुजर गई।।
देव
08/02/2021, 11:04 pm

Leave a Reply