Random thoughts

जिसके लिए मैं, मैं ना रहा,
वही कहती है मुझसे आकर,
बहुत बदल गए हो,
तुम आजकल।।

देव

[02/06, 11:01 am] Dev… Devkedilkibaat.Com: यूं ही नहीं, आती है हिचकी अक्सर,
खबर देती है, वो जिक्र मेरा करते है।।

देव
[02/06, 12:32 pm] Dev… Devkedilkibaat.Com: रंज ओ गम कहें, या अहसास ए खुशी,
वो मिले फिर से, बिछड़ने के लिए।।

देव
[02/06, 2:29 pm] Dev… Devkedilkibaat.Com: तेरी नजरो में, छिपे है, राज गहरे,
तेरे बंद लब बोल देते है, दास्तान तेरी,
मुस्कान भी अक्सर, झूठ ही बोलती है,
जिसे चाहगी तू, क्या होगी, किस्मत उसकी।।
[02/06, 2:38 pm] Dev… Devkedilkibaat.Com: कैसे तुझे, यूं ही, अपना लूं मैं अब,
तन्हाई से इश्क़, खुद से मोहब्बत जो ही गई।।

देव

[05/06, 1:10 am] Dev… Devkedilkibaat.Com: कब तलक, अपने जज्बातों को,
अपने ख्यालातों से, बांध कर रखेगी।
यकीं है मुझको खुदा पर, एक दिन,
मुझसे मोहब्बत है, वो जरूर कहेगी।।

देव
[05/06, 1:14 am] Dev… Devkedilkibaat.Com: कब तलक, अपने जज्बातों को,
अपने ख्यालातों से, बांध कर रखेगी।
यकीं है मुझको खुदा पर, एक दिन,
हां, तुझसे मोहब्बत है, वो जरूर कहेगी।।

देव
[05/06, 9:25 am] Dev… Devkedilkibaat.Com: चाहत भी करो, तो खुदा की इबादत की तरह,
इतनी शिद्दत से चाहो, कि उसे खुद में महसूस करो।।

देव
[05/06, 9:55 am] Dev… Devkedilkibaat.Com: वो खुदा में, और खुदा, मुझमें समाया है।
उसने भी तो, खुदा को, दिल में बसाया है।।

देव
[05/06, 9:55 am] Dev… Devkedilkibaat.Com: उसकी तारीफ क्या करे, जो खुद तारीफ है,
मैं तो बस, अपने जज्बात लिखता हूं।।

देव
[05/06, 9:55 am] Dev… Devkedilkibaat.Com: क्यूं बस, जबान को दिया है,
बोलने का ज़िम्मा,
थोड़ी बातें, नजरो से कर लिया करो।।

देव

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s